URL क्या है और यह काम कैसे करता है?2020 - Technical Guroo

URL क्या है और यह काम कैसे करता है?2020


* URL क्या है और यह काम कैसे करता है?2020


हेलो दोस्तों कैसे हे आप सब लोग ?हम उम्मीद करते हे की आप लोग ठीक ही होंगे। तो आज हम आपको URL के बारे में बताने वाले है यह क्या है और इसका इस्तमाल कहा होता है। तो चलो दोस्तों ज्यादा समय ख़राब न करके हम लेख की और बढ़ते है। 

*URL क्या है?


आपने इसके बारे में बोहत बार सुना होगा और आपको सायद पता ही होगा की यह क्या है और अगर नहीं पता तो में आपको बता दू की यह एक  इंटरनेट पर किसी भी साइट ,वीडियो आदि चीज का वेब एड्रेस होता है जैसा की आपने देखा होगा की https://www.technicalguroo.com/ ये एक मेरी साइट का URL है। 


हम आपको बतादे इसका फुल फॉर्म नाम क्या है ?Uniform Resource Locator (URL) इसका पूरा नाम है। और हम आपको बता दे की चार चीजों से यूआरएल बनता है। और इसके जरिये हम आसानी से किसी भी पेज पर पोहच सकते है। 

१) Protocol 
२) SubDomain 
३) Domain 
४) Top Level Domain 


१) Protocol :

देखने जाये तो प्रोटोकॉल भी दो तरह के होते है पहला जो हे वो http:// है जो की सिक्योर नई है। अगर आप इसके जरिये अपनी कोई भी फाइल शेयर करते हो तो आपको उस फाइल के चोरी होने का डर रहेगा। क्योकि यह फाइल सिक्योर नई है और इसका डेटा कोई भी हैकर चुरा सकता है। 

अब हम दूसरे प्रोटोकॉल की बात करने जाये तो हो वो है https:// जो की पूरी तरह से सिक्योर होता है जो की आपकी फाइल को एन्क्रिप्ट करके बाद में शेयर करता है जिसे की आपका डेटा चोरी होने का खतरा टल जाता है। 

२) SubDomain :

आप सब लोग जानते ही होंगे की सब डोमेन क्या है अगर नई तो में आपको बता दू की आपने इंटरनेट पार देखा ही होगा की www लिखा आता है। यह एक सब डोमेन ही है इसका काम होता है की आप के डेटा को सर्वर पर सेव कर दे। 

अगर कोई भी आपके डेटा को देखने के लिए कोई रिक्वेस्ट करता है तो वो डेटा को दिखाने के लिए यह काम में आता है।  और इसका World Wide Web पूरा नाम है। 

३) Domain :

आपने अगर कभी साइट बनायीं होगी तो आपको पता ही होगा एक अच्छी साइट बनाने के लिए आपको Domain का नाम खरीदना पड़ता है और वो नाम पूरी दुनिया में सबसे अलग होता है। यह नाम इस लिए अलग होते है ताकि कोई भी नाम के जरिये आसानी से आपकी साइट तक पोहच सके। 

आपको डोमेन खरीदने के लिए बोहत साऋ साइट मिल जाएगी जिस पर आप बड़ी आसानी से डोमेन खरीद सकते है और अगर आपको ब्लॉग बनाना है तो आपको डोमेन नाम खरीदना आवश्यक है। 

४) Top Level Domain :

Url का जो आखिर वाला पार्ट है वो यही है। अगर आपको पता नई है की टॉप लेवल डोमेन क्या है तो में आपको इसके कुछ उदाहरण दिखाऊंगा जिसे की आप बड़ी आसानी से समज सके की टॉप लेवल डोमेन क्या है। 

उदाहरण :

* .COM 
* .NET 
* .IN 
* .XYZ 

इसके जरिये आप का कोई भी डेटा सर्वर तक पोहच पाता है और वो भी बड़ी आसानी से। 

* URL काम कैसे करता है?

हम जैसे ही अपने किसी भी ब्राउज़र में किसी भी साइट का यूआरएल डालते है वैसे ही हमारा ब्राउज़र DNS की मदद से उस डोमेन के IP एड्रेस को बदल देता है। और हमें उस साइट तक पोहचा देता है जिसे की आपने अपने ब्राउज़र में सर्च किया है।

पहले IP एड्रेस की मदद से ही किसी भी साइट तक पंहुचा जाता था लेकिन बड़े IP एड्रेस याद न रहने की वजह से इस सिस्टम में बदवाल किया गया और अब हम बड़ी आसानी से किसी भी साइट तक पोहच सकते है 

*IP Address  क्या है?

इंटरनेट प्रोटोकॉल एड्रेस ये एक उसका पूरा नाम है। यह एक तरह का एड्रेस होता है या फिर आप समज लो की यह एक यूनिक नम्बर होता है। जो की इंटरनेट से जुडी कोईभी डिवाइस के लिए होता है। आप समजलो की मोबाइल ,लैपटॉप ऐसी अभी चीज में यह होता ही है। 

उदाहरण: 101.१०२.१०५.०० 

IP Address की मदद से ही आपकी इंटरनेट दुनिया में पहचान होती है और आप इंटरनेट पर कुछ भी सर्च कर सकते है। इसके जरिये अगर कोई भी कुछ भी गलत काम करता है तो आपको बड़ी आसानी से पकड़ा जा सकता है। हम देखने जाये तो कई तरह के IP एड्रेस होते है। 

१) Public IP Address
२) Private IP Address
३) Dynamic IP Address
४) Static IP Address


//आज हमने आपको इसके बारे में पूरी जानकारी देने की कोसीस की है। अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी है तो आप इसको ज्यादा से ज्यादा लोगो तक शेयर करे ताकि यह जानकारी दुसरो के भी काम आ सके और अगर इसके रिलेटेड कोई भी सवाल आपके पास है तो हमें कमेंट कॉक्स में जरूर बातये और आपके सवाल का जवाब देने की हम पूरी कोसिस करेंगे।  
Previous article
Next article

Leave Comments

टिप्पणी पोस्ट करें

if you have any doubt . plz let me know