What is Python Script with Full Information ? In hindi 2020 - Technical Guroo

What is Python Script with Full Information ? In hindi 2020


हेलो दोस्तो आज एक बार फिर से हमारे Blog में आप का स्वागत है। तो दोस्तो आज हम बात करेंगे कि python क्या है। और इसका कहा कहा इस्तमाल होता है। 
      
Computer और mobile phone में जितने भी run होने वाले software किसी ना किसी programming language से बने होते है। आज के समय में आपको कई सारी programming language देखने को मिलेंगे। 

जैसे C , C++ , Java ये सब computer language होते है। जो मनुष्य के द्वारा लिखे और पढ़े जाते है। हर language के अलग अलग फीचर्स होते है। जिन्हे हर एक दूसरे से अलग बनते है। जैसे जैसे तकनीक कि दुनिया में बदलाव होते जा रहे है वैसे वैसे इन programming language में आपको बदलाव देखने को मिलता है। 

जो यूजर को आसान और बढ़िया फीचर्स प्रदान करते ह। और एक एसी ही एक programming language है Python .  जिसे programming कम्यूनिटी के द्वारा दुनिया का Top 10 लोकप्रिय programming language  में सबसे ऊपर दर्जा दिया गया है। 

                         


तो दोस्तो आप इसे देख के समझ गए होगे कि ये कितनी बेहतरीन और आसान  programming language है जो हर कोई इसे आसानी से सीख सकता है। तो दोस्तो आज हम आपको  python के बारे में पूरी जानकारी देंगे। 

 * PYTHON क्या है?

Python एक ओपन सोर्स high level  और General purpose  programming language है। मतलब कि ये लैंग्वेज machine independ होती है। कई लोग पहली बार प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सीख रहे है या प्रोग्रामिंग के बारे में ज्यादा कुछ मालूम नई है तो उन लोगो को टेंस लेने की कोई जरूरत नई है। क्योंकि आज हम आपको इसके बारे में सभी जानकारी देंगे। 

आप सबने कभी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज पढ़ी होगी तो आपको पता होगा कि लैंग्वेज दो प्रकार की होती है। 1. High level language 2. Low level language. जो प्रोग्रामिंग लैंग्वेज Hardware depend code लिखती है उसे Low Level लैंग्वेज कहते है। और जो machine independ code लिखती है उसे High level लैंग्वेज कहते है। 

एसी कई सरी लैंग्वेजेस होती है जो सिर्फ particular Topics में ही प्रोग्रामिंग करने के लिए काम आती है। लेकिन इस लैंग्वेज में आप कई तरह की प्रोग्रामिंग कर सकते हो और  साथ ही इसे शक्तिशाली programming language भी मानी जाती है। ये एक  बेहतरीन लैंग्वेज है जिसके मदद से हम बहुत तेज़ी से और आसानी से Application बना सकते है। 

जैसे कि आप इसमें console application बना सकते हो। साथ ही साथ आप desktop application भी बना सकते हो। फिर आप Web application बना सकते हो और इस बेस में ये लैंग्वेज बहुत ही popular है। इसके आलावा आप mobile application भी बना सकते हो। हाला कि mobile application में इसे popular नई माना जाता लेकिन इसके मदद से mobile application बना सकते है। एसी कई application आप बना सकते हो। 

ये C , C++ कि तरह एक programmin language है लेकिन ये बाकी के मुकाबले बहुत ही आसान भाषा है। जिनका सिंटेक्स यूनिक है। जो यूजर को पढ़ ने योग्य बनता है। अलग अलग developers Python के language को पढ़ के ट्रांसलेट भी कर सकते है। जो दूसरे भाषा से आसान होती है। Python में  Dynamic tap system और  automatic memory management  कि सुविधा उपलब्ध होती है। 

इसी वजह से प्रोग्राम की मेंटेनेंस और डेवलपमेंट का खर्च भी कम होता है। और इस language पर काम करने वाली टीम को एक दूसरे का सहयोग भी मोक मिलता है। ये शक्तिशाली लैंग्वेज होने की वजह से बड़ी बड़ी कंपनी में इसका इस्तमाल किया जा रहा है। जैसे Youtube , Instagram , Googel , Quora , Pinterest , Dropbox ,  आदि है। 

                              

ये लैंग्वेज models और  packages का उपयोग और सपोर्ट करता है। इसका मतलब है कि इस लैंग्वेज में जो प्रोग्राम लिखे जाते है वो modular style में लिखे जाते है जो अलग अलग प्रकार के महत्वपूर्ण Task perform करने के लिए बनाए जाते है। इन मॉड्यूलर का उपयोग दूसरे प्रोजेक्ट के काम में उपयोग किया जा सकता है। और इने इनपुट और एक्सपोर्ट आसानी से किया जा सकता है।

तो दोस्तो आप कभी  Github पे नज़र डाले तो इसमें ओपन सोर्स प्रोजेक्ट चलते है और onlaine प्रोग्रामर के साथ प्रोजेक्ट बनाए जाते है। और जो भी प्रोजेक्ट बनते है वो ज्यादा तर JAVA script में बनते है और दूसरे नंबर में सबसे ज्यादा प्रोजेक्ट बनते है वो  Python Script में बनते है। तो इससे पता चलता है कि कितनी पॉप्यूलर है ये लैंग्वेज।  तो दोस्तो अब हम जानेंगे Python के इतिहास के बारे में। 


*PYTHON का इतिहास? 

Python एक straight forward language है।मतलब कि इस language में काम करने का एक सिंगल ही तरीका दिया जाता है।यदि आप दूसरे लैंग्वेजेस को देखेगे तो एक काम करने के कई तरीके होते है।और इस लैंग्वेज में सिर्फ एक ही तरीका आपको दिया जाता है।जो एक अच्छी बात है। 

Python का आविष्कार  नीदरलैंड में Guido Van Rossum द्वारा किया गया था। और इस लैंग्वेज कि सरुआत 1980 में हुई थी। और करीब दस साल बाद 1991 में Python को लॉन्च किया गया था। जनवरी 1994 में इस language का पहला वर्जन Python 1.0 लॉन्च हुआ था।    

इसका दूसरा वर्जन Python 2.0 अक्टुबर 2000 में लॉन्च हुआ था। और तीसरा वर्जन Python 3.0 एक लंबी अवधि के बाद December 2008 में लॉन्च किया गया था। इस लैंग्वेज का नया वर्जन Python 3.6.1 मार्च 2017 में रिलीज़ किया गया है। इस लैंग्वेज को इस तरह से बनाए गए है कि इसे आसानी से समझें और पढ़े जा सकते है।  इस language के syntax इतने सिम्पल है कि कोई भी इंसान इस लैंग्वेज को आसानी से सीख सकता है। 

इसकी एक खासियत ये भी है कि इसे सीखने के लिए कोई भी पैसा देना नई पड़ता। की इसके लिए किसी भी लाइसेंस कि जरूर नई है। ये जनरल पब्लिक लाइसेंस पे उपलब्ध फ्री सॉफ्टवेयर लाइंसेस है जो यूजर को पढ़ ने और समझ ने कि सुविधा देता है। ये सब सुन के आपके दिमाग में ये प्रश्न आया होगा कि इस का नाम Python क्यों रखा गया है। 

दोस्तो अगर आपको मालूम है तो Pyrhon एक सर्प के प्रजाति का नाम भी है। लेकिन इस लैंग्वेज के नाम कि उत्पति एक कॉमेडी शो से हुई थी। जो 1970 में monty Python's Flying circus से एक script प्रकाशित हुई थी। इस script से प्रभावित होकर Guido Van Rossum ने इस लैंग्वेज का नाम Python रख दिया। 
      
फिलहाल Python लैंग्वेज को इस वक्त cord development teem के द्वारा मेंटेन किया जाता है। जो इस लैंग्वेज में नई नई उपदेट और नई नई फीचर्स जोड़ते रहते है। 
                

*PYTHON का उपयोग क्यों किया जाता है?

तो दोस्तो Python एक Object Oriented Programming लैंग्वेज है। जिसका उपयोग हम सॉफ्टवेयर का निर्माण करने के लिए करते है। आज के समय में प्रोग्रामर के द्वारा इस्तमाल होने वाली भाषा Python है। इस लैंग्वेज का उपयोग System Software , Web Application , Game Development , App Development , Website Creation , Computer Graphics , Server Side Program आदि बनाने में किया जाता है। 

आपके ये सुन कर हैरानी होगी कि इस लैंग्वेज का इस्तमाल NASA में भी होता है। जहा Instrument और space machine को बनाने में इस लैंग्वेज का उपयोग होता है। इस लैंग्वेज का उपयोग Artificial Intelligent के Data सेंस में भी किया जाता है। Python कि स्टैंडर्ड लायब्रेरी कई सारे internet protocol को सपोर्ट करती है। जैसे कि <html> , <XML> , JSON , IMAP , FTP आदि है। 

*PYTHON के अनोखे फीचर्स?

Python एक high level प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है। जिसे Code , Read , Maintain करना बहुत आसान है। इस लैंग्वेज का सोर्स कॉड सबके के लिए फ्रीली Available होता है। और इसे रीयूज और मॉडिफिकेशन करने के लिए सभी यूजर के लिए ओपन रखा जाता है। क्योंकि यूजर इसे स्वतंत्रता के रूप में डाउलोड और इसका उपयोग कर सके। इसके वजह से इसे ओपन सोर्स लैंग्वेज कहा जाता है। 

इस लैंग्वेज के कई यूनिक फीचर्स है जो बाकी के लैंग्वेजेस से बहुत अलग बनते है। 

 1. Simple             

Python एक बहुत ही सरल भाषा है। इसका उपयोग करना आसान है इसलिए Computer कि भाषाओ में सबसे आसान भाषा माना जाता है। Python एक ऐसी भाषा है जिसे पढ़ ना और समझ ना बहुत आसान है। जिन लोगो को पहले से language के बारे में कोई ज्ञान नई होता वो भी इस भाषा को पढ़ कर आसानी से programmer बन सकता है। 

2. interpreted language

जिस तरह हमें बाकी के programming language जैसे C , C++  और Java को Run करने से पहले compile करना जरूरी होता है। Python इस तरह compile नई किया जाता है। Python code run time पर ही interpreter द्वारा process किया जाता है। 

ये language एक ही समय में program के code को line by line execute करता है। इसलिए इस language को Script language भी कहा जाता है। हाला कि ये लैंग्वेज interpreted होने की वजह से सभी लैंग्वेज से थोड़ी slow है। 

3.  Platform independent

ये language ओपन सोर्स होने के कारण ये सभी Platform पे उपलब्ध है। जैसे कि Linux , Windows और  Mac Os. Python का कोड आसानी से किसी भी Platform पर चलता है। इसीलिए अलग आप python का कोड किसी भी operating system पर लिखते है। 

तो इस program को दूसरे operating systems में भी बिना किसी समस्या के run कर सकते हो। आपको इस लैंग्वेज में अलग अलग platform के लिए अलग अलग कोड लिखने की आश्यकता नई है। 

4. Extensible languages


ये लैंग्वेज पूरी तरह से Extensible लैंग्वेज है। अर्थात इसके सोर्स कोड में अन्य programming language के कोड डाले जा सकते है। यदि आप चाहते है कि program का कोई एक हिस्सा तेज़ी से Execute हो तो आप उस हिस्से को दूसरी भाषा C या कोई भी दूसरी भाषा में लिख सकते हो। इस लैंग्वेज को दूसरे भाषा C या C++ के साथ आसानी से integrate किया जा सकता है। 
                 

5. Large Standard Library

इस लैंग्वेज में बहुत बड़ा Standard Library मौजूद है।  ये Library अनेकों तरह के कार्य के लिए उपयुक्त है। यह हम repid Application Development  के लिए  module और packages का समुद्र Set प्रदान करती है। जिसके कारण हमें हर task के लिए अलग कोड लिखना नई होता। 

इसमें graphical user interface बनाने के लिए module है। Web framework बनाने के लिए module है। Database से data आदान - प्रदान करने लिए module है बस उसी तरह बहुत से task perform करने लिए Library में modules उपलब्ध है। 

*Library for PYTHON

तो दोस्तों इस language में Library किस किस चीज में है। दोस्तो आपको particular  programmimg करनी है तो आपको Python कि Library को सीखना जरूरी है। कोन कोन से फीचर्स है और किस तरह काम किया जा सकता है। 

Graphical user interface
       Web farmworks
       Multimedia 
       Database
       Networking
       Test farmworks
       Automation
       Web scraping
       Documentation
       System administration
       Scientific computing
       Text processing
        Image processing
        IoT
       
तो दोस्तो आशा है कि आपको इस लेख के माध्यम से आपको पता चला होगा की python क्या है। इसका उपयोग केसे और कहा होता है। और क्यों किया जाता है। और इसके फीचर्स से जुड़ी आपको सभी जनालरी मिली होगी। 



      // तो दोस्तो आपको ये लेख पसंद आया होगा । तो आपको ये जानकारी अच्छी लगी हो तो कृपया हमें कॉमेंट बॉक्स में कॉमेंट करके जरूर बताए और दोस्तो आपको ये पोस्ट ज्ञान वर्धक लगी हो तो आपके फैमिली और आपके दोस्त को जरूर शेयर करे। 
Previous article
Next article

Leave Comments

टिप्पणी पोस्ट करें

if you have any doubt . plz let me know